Seed Fair Jalaun

Seed Fair Jalaun Event Date: 29-06-2016


पीड़ित समुदाय की मदद मानवता की शक्ति सेवा - अमर घाना

29 जून 2016

परमार्थ समाज सेवी संस्था द्वारा अमृता पैलेस माधौगढ में सूखा राहत बीज मेला खरीफ सीजन 2016 का आयोजन किया गया । इस अवसर पर भुवनेश्वर ब्त्ै के आपदा राहत के कार्यक्रम प्रभारी अमर घाना ने कहा कि वर्तमान में बुंदेलखण्ड देश में सर्वाधिक संकट ग्रस्त क्षेत्र है। जहाॅं इसमें पिछले कई सालों से किसान प्राकृतिक आपदाओ से जूझ रहा है। जिसके कारण किसान की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है एसे संकट ग्रस्त किसानो की मदद करना सच्ची मानवता की सेवा है। उसी क्रम में आज माधौगढ़ में किसानों को निःशुल्क बीज उपलब्ध कराने के लिए बीज मेला का आयोजन परमार्थ समाज सेवी संस्था एवं ब्त्ै संस्था के संयुक्त तत्वाधान में किया गया। आगामी 3 जुलाई को 2 किसान मेला बंगरा गांव में आयोजित किया जाएगा। इस अवसर पर उपस्थित परमार्थ संस्था के प्रमुख संजय सिंह ने कहा कि अभाव ग्रस्त 2000 किसानों की मदद इन किसानों को खरीफ की फसल बोने में मदद करेगी। परमार्थ संस्था का प्रयास है कि सूखे के संकट से जूझ रहे किसानों को इस आपदा से उबारने का कार्य किया जाए। जरुरत के समय छोटी मदद भी बहुत कारगर होती है । जिसका उदाहरण परमार्थ और ब्त्ै संस्था ने खरीफ के फसल के लिए किसानांे को मदद देकर प्रस्तुत किया है । इस अवसर पर जिला उद्यान अधिकारी गमपाल सिंह ने कहा कि बुंदेलखण्ड के आपदा ग्रस्त किसानों के सहयोग के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। उद्यान विभाग किसानों की सहायता के लिए महात्वाकांक्षी योजनाए बना रहा है जिसमें बाग लगाना प्रमुख है जो किसान 1 हेक्टेयर में अपने खेतो में बाग लगाएगे उनको उद्यान विभाग 36 महीनों तक 3000रु0 प्रतिमाह देगा। इस अवसर पर सी0आर0एस0 संस्था की पटना से आयी रेखा ने कहा कि सी0आर0एस0 संस्था परमार्थ के सहयोग से आगे भी किसानों की मदद करती रहेगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक किसान को रुपये 4000/- दिया जाना है, जितना का वह बीज खरीदेगा उसके अलावा शेष धनराशि उसके बैंक खाते में स्थानान्तरित कर दी जाएगी। परमार्थ संस्था के एस0पी0सिंह ने कहा कि अन्न दाताओं की मदद सबसे बड़ा पुण्य हैं। किसान अन्न न केवल अपने लिए पैदा करता है बल्कि समाज के लिए भी अन्न उपजाता है। सी0आर0एस0 संस्था की सुप्रिया ने कहा कि उनकी संस्था का उद्देश्य बाल अधिकारों का संरक्षण है। बालकों के साथ किसी भी प्रकार का भेदभाव न किया जाए। पहुंज विकास मंच के संरक्षक बृजराज सिंह असहना ने कहा कि परमार्थ व सी0आर.0एस. संस्थान ने किसानों की मदद करके सच्ची मानवता की सेवा का उदाहरण प्रस्तुत किया है। रामबाबू पाल ने कहा कि समाज के और दूसरों संगठनों को परमार्थ संस्था के इस कार्य से सीख लेनी चाहिए। महिला एकता संघ की ऊषा भारद्वाज ने कहा कि यह मदद महिलाओं के खाते में दी जा रही है जिससे महिलाओं का सम्मान बढ़ा है। इस किसान मेला में 1000 से अधिक किसानों द्वारा सहभागिता की गयी। इस अवसर पर प्रमुख रुप से परमार्थ के उत्तम सिंह, हरिओम पाण्डेय, सन्तोष कुमार, अबनीश मिश्रा, प्रभा, हेमन्त वर्मा, भग्गूलाल बाल्मिकी, पुरुषोत्तम, रामकरन, मर्सी, शफीक अहमद आदि प्रमुख रुप से उपस्थित रहे।