Rally & Exhibition on the occasion of Ground Water Week

Rally & Exhibition on the occasion of Ground Water Week Event Date: 21-07-2017

भू-जल संरक्षण सप्ताह के दौरान किया जागरूक
दिनांक 21 जुलाई को प्रातः 9 बजे जल जन जोड़ो अभियान के अंतर्गत हाफ़िज़ सिददकी इंटर कालेज झाँसी से भू जल संरक्षण सप्ताह के दौरान 500 छात्र/छात्राओं के साथ परमार्थ समाज सेवी संस्थान ने रैली निकाली. हाफ़िज़ सिददकी इंटर कालेज के प्रधानाचार्य श्री उसमान जी द्वारा रैली को हरी झंडी देकर रवाना किया ,रैली में सभी बच्चों ने नारों (जल तो हैं सोना इस नहीं खोना , जल हैं तो कल हैं , हम सबने ठाना हैं । देश को सूखा मुक्त बनाना हैं ) के माध्यम से आम जन को वर्षा जल संरक्षण एवं भूगर्भ जल के अत्यधिक दोहन को रोकने हेतु जागरूक करने का प्रयास किया , रैली स्कूल से जीवन शाह चौराहे तक रखी गई । रैली का समापन हाफ़िज़ सिददकी स्कूल में रखा गया । परमार्थ समाज सेवी संस्थान से राज्य समन्वयक मनीष कुमार ने बच्चों को जल संरक्षण व जल संवर्धन के बारे में बताया कि पानी की एक एक बूंद बचाइए , क्योंकि पानी का भंडार सीमित हैं । गाड़ी धोते समय पाईप की बजाय बाल्टी व मग का प्रयोग करे , इससे काफी पानी की बचत होती हैं , सार्वजनिक पार्क , गली , मोहल्ले , अस्पताल , स्कूल आदि में जहां कही भी नल की टोंटियां खराब हो या पाइप से पानी लीक हो रहा हो तो तुरंत जल निगम कार्यलय में या संबंधित व्यक्ति को सूचित करे । इसके बाद परमार्थ समाज सेवी संस्थान द्वारा इलाईट चौराहे पर वर्षा जल संरक्षण पर प्रदर्शनी लगाइ गई ,जिसके माध्यम से नागरिकों को जल संरक्षण के बारे में जागरूक किया प्रदर्शनी में वर्षा जल संरक्षण के मॉडल के माध्यम से लोगो को जागरूक व् संवेदित किया गया . इस अवसर पर परमार्थ की परामर्शदाता संध्या सिंह ने बताया वर्षा जल संचयन तथा ग्राउंड वाटर रिचार्जिंग हेतु बरसात में छतों व टंकियों में वर्षा जल का संचय करें । यह पानी , कपडे धोने , बागवानी आदि सभी कार्यो हेतु उत्तम हैं । इस पानी का प्रयोग ग्राउंड वाटर रिचार्जिंग के लिए भी किया जाना चाहिए ,और वृक्षारोपण जहां ज्यादा वृक्ष होते हैं ,वहाँ अच्छी बारिश होती हैं ,जिससे नदी नाले भर जाते और पानी की कमी नहीं होती है ,वहाँ भूमिगत जल भी अधिक रिचार्ज होता हैं इसलिए लगातार वृक्षारोपण करते रहे और जंगलों और पेड़ों के कटान को रोके संस्था के सचिव एवं जल जन जोड़ो अभियान के राष्ट्रीय संयोजक संजय सिंह जी ने सभी का आभार व्यक्त किया और बताया कि जल ही जीवन हैं और जल हैं तो कल हैं अगर बुंदेलखंड को सूखे से बचाना हैं तो पानी कि एक एक बूंद को बचाना हैं । संस्था से संध्या सिंह ,रुपक ,संध्या शर्मा ,हिमांशु विमल , पिंकी पाठक , सोनिया , तारा यादव , राम नरेश , विलाल उलहक , सत्यम चतुर्वेदी उपस्थित रहे।